10 Tips To Be Successful In Life - जीवन में सफलता के 10 सूत्र (Hindi)

जीवन के कुछ चीजों के निर्णय हमे खुद भी लेने चाहिए। ऐसा इसीलिए क्योंकि न जाने कितनी बार हमारे सामने ऐसी परिस्थिति आती है जब हम अकेले निर्णय नही ले पाते हैं, और जब कभी आप या हम जीवन के फैसले किसी दुसरो के सुझाव से लेते हैं, तो हम किसी भी चीज़ को ढंग से नही कर पाते हैं और इसी वजह से हम असफल हो जाते हैं। इसीलिए एक बात का हमेशा ध्यान रखना, आपको आप से बेहतर कोई नही जानता, इसीलिए वही करें जिसमें आपको मन लगता है, वो काम बिल्कुल न करें, जिसमें आप अच्छे नही है। तो इन्ही सब बातों से जुड़ी आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं, जिनके निर्णय आपको खुद से लेने चाहिए, तो चलिए जानते है कि वो कौन सी बातें है जिनके फैसले हमें खुद से लेने चाहिए, और कौन से कार्य को हमे खुद अपने आप करना चाहिए।

कुछ जरूरी निर्णय के लिए आप बड़े लोगों की बातें मान सकते हैं, पर कार्य के फैसले में हमेशा खुद की सुने...क्योंकि कार्य आपको करना है, उनको नही जिन्होंने आपको सलाह दी है, क्योंकि जीवन में कुछ कार्य ऐसे भी होते हैं जिसके निर्णय हमको अपने माँ-बाप, रिश्तेदार और दोस्त की राय के बिना ही लेने होते हैं।


कुछ जीवन से जुड़े निर्णय के बारे में आज कल के लड़के या लड़कियों को पता नहीं होता है और वह किसी और कि बात में आकर अक्सर गलत फैसले ले लेते हैं, और फिर पूरी जिंदगी खुद को कोसते रहते हैं।


10 Steps for successful life - 10 rules for successful life
10 TIPS TO BE SUCCESSFUL IN LIFE

आपके जीवन के कुछ कार्य खुद से करने चाहिए।


हम जो आज आपको बताने जा रहे हैं, उन कामों को अगर आप दूसरे के राय से उनके आदेश से कर रहे हो, तो आपको जीवन भर पछताने के अलावा कुछ नही मिलेगा। दरअसल हर किसी के साथ ऐसा नही होता है, पर फिर भी आप बाद में सोचते हैं, कि यार मुझे ये नही करना चाहिए था। 


तो चलिए जानते है, कुछ ऐसे निर्णय जो हमे खुद से लेने चाहिए।


1. कैरियर (Career)

अगर आप एक (STUDENT) छात्र हैं, तब आपके लिए पढ़ाई को लेकर ये सवाल अवश्य आता होगा, की हमको किस फील्ड में पढ़ाई करनी चाहिए।


इसके अलावा हम न जाने किन किन लोगों से पूछते है, की मुझे आगे किस चीज़ में पढ़ाई करनी चाहिए।


देखिए अगर आपको इंजीनियर बनना है और आप इस बारे में फिर सब लोगों से पूछना शुरू करते है, तब आपको हर एक इंसान अपना खुद का अनुभव आपके साथ शेयर करेगा। अब उनको ये तो नही पता होगा कि आप हो सकता है उससे बेहतर कर जाओ या फिर हो सकता है उनका अनुभव आपको दुविधा में डाल दे और उस फील्ड में आप कुछ अच्छा करने से पहले ही गलत दिशा में चले जाएं। इसलिए बेहतर यही है कि आपको क्या करने की इच्छा रखते हैं, उसका निर्णय आप ख़ुद से लें, इसके लिए आपको कभी भी किसी दूसरे पर निर्भर होने की जरूरत बिल्कुल भी नही हैं।



2. हमेशा दिल की सुनें (Listen your Heart)

हमारा हृदय और आत्मा हमेशा हमको सही रास्ता दिखाने में मदद करता है, मगर ऐसे मामलों में हम अपने मन की नही सुनते हैं, और दूसरी के कहे पर चलते हैं, जो कि बहुत गलत फैसला होता है।


हमको अपनी जिंदगी से अधिक अन्य लोगों की चिंता होती है। हमेशा दिमाग मे ये कूड़ा भरा रहता है कि " लोग क्या कहेंगे" बस इसी बिझदिली की वजह से हम अपने रास्ते से भटक जाते हैं।



3. अपनी ताकत का सही इस्तेमाल करें। (Use your Power)

जब भी हम किसी भी काम को करते हैं तो हम उसको सही से नही कर पाते हैं, ऐसा इसलिए भी होता है, क्योंकि हमारा पूरा दिल उस कार्य मे नही लगता है, और फिर लोग कहते हैं, की ये काम हमारे बस की बात नही है, और हम फिर उनकी बातों में आकर कोशिश करना भी छोर देते हैं।


कोई भी अगर कह देता है, की तेरे बस से बाहर है, तो हम तुरंत फैसला ले लेते हैं, कि शायद ये सही बोल रहा है, फिर आप कोशिश करना भी छोर देते हैं और यही हमारी असफलता का बहुत बड़ा कारण होता है।


आपको अगर कोई काम पसंद है तो आप उसी काम को करो, क्योंकि उसी काम को आप बेहतर तरीके से कर पाओगे। जिस काम मे मन नही लगता है, उस काम को आप कितना भी कर लो, आप उसमे सफल नही हो पाओगे।


जब आप अपने पसन्द का काम करते हैं, तो उसमें आप अपना सारा पावर लगा देते हैं, उस काम को आप पूरे मन से करते है, जिसकी वजह से आपको उस काम मे एक न एक दिन सफलता जरूर मिलती है।



4. आत्मनिर्भर बने (Be self sufficient)

अगर आप खुद की जिंदगी खुद से जीते हो तब आपको किसी और इंसान की जरूरत नही खलती है, जी हाँ अगर आप अपने सभी कामों को खुद से करना सीख जाओ, और आप किसी और के भरोसे न रहो, तब आपको कोई भी कमजोर नही बना सकता, क्योंकि तब आपमे खुद को संभालने की ताकत होती है, जिसकी वजह से आप अपने दम पर कुछ भी कर सकते हो।



5. हमेशा खुश रहने की कोशिश करो (Be Happy)

इस बात में थोड़ी पेचीदगी है, इसको ध्यान से समझें, दुनिया मे आप चाह कर भी सभी इंसान को खुश नही रख सकते हैं। क्योंकि अगर आप सभी को खुश करने की कोशिश कर रहे हैं, तो इसका मतलब साफ है, की आप उसके गलत कार्य मे भी उसका साथ दे रहे हैं।


दूसरे के लिए ज्यादा मत सोचो, क्योंकि जब आप कामयाब हो जाओगे, तब लोग आपके बारे में सोचेंगे, इसलिए आपको जेवन के फैसले भी खुशी खुशी लेने चाहिए और ज्यादा नही सोचना चाहिए।



6. समय बहुत कीमती है, इसको बर्बाद बिल्कुल न करें (Don't waste time)

दुसरो से सलाह लेने से अच्छा है, की आप खुद के फैसले खुद बेहतर तरीके से करें, क्योंकि दूसरे लोग इस बात को आपको समझाने में आपका काफी समय बर्बाद कर देगा।


इसलिए दूसरों के फैसले का इंतज़ार मत करो, अपने काम को सही समय पर करते रहो, और जब तक सफलता हाथ नही लगती तब तक आपके लिए कुछ भी जरूरी नही होना चाहिए, कुछ भी नही, जब तक सफल नही होते तब तक आप आराम की जिंदगी जीना छोर दो।



7. आपकी चाहत केवल आपकी है (Your wants is yours)

जिस काम को करते हुए आप खुद पर गर्व करते हैं, ऐसा जरूरी नही है, कि वो काम दूसरों को भी पसन्द हो। यहाँ पर हर किसी की सोच अलग होती है।


इसलिए खुद के रास्ते खुद चुनो और उस पर कार्य करते रहो। शुरुआत में कुछ परेशानियां आएंगी, पर अंत मे वो मंजिल आपकी होगी। और वहाँ तक पहुचने की मेहनत की आपकी ही होगी। और तब उससे बढ़के आपके लिए कोई खुशी नही होगी।



8. अपने आप को पहचाने (Identify yourself)

किसी दूसरे को खुदको परखने का मौका मत दो। किसी दूसरे से रिश्ता बनाने से पहले, खुद से रिश्ता बनाओ। खुद को प्यार करो, और खुद को समझो।


आप दुनिया मे कुछ करने आये है, बेकार जिंदगी तो एक भिखारी भी काट लेता है, पर आपको दुनिया को दिखाना है, की आप उन आलसी लोगों में से बिल्कुल नही हैं।


जब आप एक अलग दिशा में चलते हैं, तो लोग आपको बहुत गिराने की कोशिश करते है, पर ऐसे समय मे आपको खुद पर विश्वास रखना होगा।



9. अपनी जिंदगी को अपने तरीके से चलाओ (Control your life yourself)

हममे से बहुत लोग दूसरे के हिसाब से जीवन जीते है। हमारे हर काम को हम फुसरो के हिसाब से करते है, यहीं बहुत बड़ी गलती कर जाते है। ऐसा हमारी लाइफ में नही होना चाहिए।


अपनी जिंदगी खुद से चलाओ, क्योंकि जब हम किसी और पर निर्भर होते हैं, तब हमारे सारे काम उसी के हिसाब से होने लगते हैं। और हम कुछ भी कर पाने में असमर्थ हो जाते हैं। इसलिए ज्यादा लोगों से उम्मीदें मत रक्खो। क्योंकि उम्मीदें अक्सर तकलीफ देने लगती हैं।



10. अपना फैसला आपका खुद का होना चाहिए (Last decision is yours)

हम जब सही रास्ते पर चल रहे होते हैं, और हम इस बीच मे कीड़ी से सलाह लेते हैं, तब वह हमें गलत सलाह दे देते हैं और हम उस बात को मानकर उस कार्य को करना ही बंद कर देते हैं। यही हम गलती करते है, क्योंकि आपको आपसे बेहतर कोई नही जानता। आप खुद के राजा हो। आपपर केवल आपका हुक्म चलना चाहिए। किसी की मत सुनो। बस एक दिशा में चलते रहो।

आप दूसरों से सलाह अवश्य लें मगर उसमे आखरी फैसला आपका होना चाहिए, दूसरे का नही। अगर आप अपने जीवन को इस तरह से ढालते हैं, तब आपको आपके जीवन को सफल बनने से कोई नही रोक सकता है।


आपको ये जनकारि कैसी लगी हमे कमेंट में जरूर बताएं और सकारात्मक सोच के साथ अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ते रहें। एक दिन दुनिया आपके कदमों में होगी।

Comments